Language: English Hindi Marathi

संघर्ष करते रहना ही सफलता की कुंजी है….अरमान ताहिल

कुमारी रंजना

सबसे पहले तो मैं आपको और आपकी टीम को अपना प्यार भरा सलाम और नमस्कार करना चाहूंगा और फिर जितने भी मेरे चाहने वाले हैं और वह लोग जो यह इंटरव्यू पढ़ रहे है और पढ़ने वाले हैं उनको भी मेरा प्यार भरा सलाम नमस्ते । अब तक के फिल्मी सफर में – मैंने सौ ( 100 ) से ज्यादा सीरियल्स में अभिनय किया है और जितने भी सीरियल्स मैंने किए हैं वह मेरे प्रिय रहे हैं और उनसे मेरा एक खास रिश्ता रहा है , एक प्यारी सी बॉन्डिंग रही है । मैंने हिंदी सीरियल्स के अलावा उर्दू , पंजाबी , भोजपुरी , मराठी , बंगाली, गुजराती जैसी भाषाओं में भी काम किया है । तो सब में मेरा अच्छा अनुभव रहा है क्योंकि एक्टिंग मेरा पैशन है और भाषा कोई भी हो मुझे काम करने मे मजा़ आता है । फिर भी जैसा कि आप का सवाल है कि आप मेरे कुछ प्रमुख सीरियल्स के नाम जानना चाहते हैं तो मैं आपको बताता हूं , वह कुछ इस तरह है :-

  • सीआईडी
  • सावधान इंडिया
  • क्राइम पेट्रोल
  • डोली अरमानों की
  • ससुराल गेंदा फूल
  • क्या हुआ तेरा वादा
  • तू आशिकी
  • लाल इश्क
  • इस प्यार को क्या नाम दूं
  • क्राइम अलर्ट

वैसे लिस्ट बहुत लंबी है इसलिए यहॉ पर इत्यादि इत्यादि करना पड़ेगा। मेरा मानना है कि संघर्ष और सफलता दोनों साथ साथ चलती है जिंदगी भर । जितना हम संघर्ष करते हैं उतनी ही सफलता हमें हासिल होती है । इसलिए संघर्ष करते रहना ही सफलता की कुंजी है और आज मैं अपने आपको इन दोनों के बीच में खड़ा महसूस करता हूं । ग्लैमर की दुनिया में टिके रहने के लिए काफी कड़ा संघर्ष करना पड़ता है क्योंकि ग्लैमर की दुनिया की चकाचौंध देखकर काफी लोग इसकी तरफ आकर्षित होते हैं और इसमें अपना कैरियर बनाना चाहते हैं और इसलिए जो कंपटीशन है वह काफी हद तक बढ़ जाता है । इसलिए ग्लैमर की दुनिया में टिके रहने के लिए हमें अपने आप को शारीरिक , आर्थिक और मानसिक तौर पर मजबूत रखना पड़ता है और साथ ही साथ अपने आपको अप टू डेट रखना पड़ता है । आपने सही सुना है कि मैंने और सुशांत सिंह राजपूत ने एक साथ एक सीरियल में अभिनय किया था और उस सीरियल का नाम था ” किस देश में है मेरा दिल ” जिसको प्रोड्यूस किया था एकता कपूर ने अपने बैनर बालाजी टेलिफिल्म्स के लिए । उस वक्त हम दोनों के अपने कैरियर की शुरुआत थी इस ग्लैमर वर्ड में । यह लगभग 2008-2009 की बात है और मुझे आज भी याद है कि सुशांत बहुत ही सरल व्यक्तित्व के बढ़िया, हंसमुख और जिंदादिल इंसान थे । और आज हम सब को इस बात का बेहद दुख है कि अब वह हमारे बीच में नहीं रहे और मैं भगवान से यही प्रार्थना करूंगा कि भगवान – दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की आत्मा को शांति प्रदान करें । जी मेरे लिए एक एक्टर बनना एक संयोग ही था क्योंकि जब मैं स्कूल में था तो मेरे पास साइंस के सब्जेक्ट्स थे और मेरे घरवाले चाहते थे कि मैं इंजीनियर बनूं । इसलिए स्कूलिंग के बाद मैंने इंजीनियरिंग में दाखिला लिया – दिल्ली इंस्टीट्यूट आफ टूल इंजीनियरिंग में जहां पर मैंने 4 साल का कोर्स किया टूल इंजीनियरिंग में जो कि मैकेनिकल इंजीनियरिंग का एक अहम हिस्सा है । और जब मैं टूल इंजीनियरिंग कर रहा था तो उस वक्त एक बहुत बड़े राष्ट्रीय अखबार में एक विज्ञापन आया था और उस विज्ञापन में यह जिक्र किया गया था कि उनको कुछ नए और आकर्षक चेहरे चाहिए थे अपने कुछ नए प्रोजेक्ट्स के लिए तो मुझे मेरे कई दोस्तों-यारों ने फोर्स किया कि तुम क्यों नहीं ट्राई करते हो इसके लिए तो उनके जोर लगाने पर मैंने सोचा कि चलो फोटो भेज कर देखते हैं क्या होता है और फिर जब मैंने अपने फोटो भेजें तो मेरा सिलेक्शन पूरे भारतवर्ष में से कुछ चुनिंदा लोगों में हुआ और उस वक्त मैंने अपने आपको बहुत ही भाग्यशाली समझा । चुने जाने के बाद मेरा एक बहुत ही बढ़िया फोटो सेशन हुआ और जब फोटोग्राफ्स निकल कर आए और जब लोगों ने देखें तो लोगों को बहुत ही अच्छा लगा और उन्होंने मुझे बेहतरीन कॉम्पलीमेंट्स दिये , किसी ने बोला – अरे तुम तो स्टार लगते हो , तुम तो हीरो लगते हो , वगैरा-वगैरा ! और फिर उसके बाद मैंने वो फोटोग्राफ्स कुछ मॉडलिंग एजेंसीज और एडवरटाइजिंग एजेंसीज में दिए और फिर उसके बाद मुझे पहला शूट मिला एक शेरवानी के ब्रांड का जिसके लिए मैंने ऐड किया और फिर वह शेरवानी के होर्डिंग्स और पोस्टर्स दिल्ली से लेकर दुबई तक लगे हर जगह तो मज़ा आ गया और यहां से मेरा सफर ग्लैमर वर्ल्ड की दुनिया में शुरू हुआ और फिर वह दिन है और आज का दिन है बस वही संघर्ष और वही सफलता साथ साथ चल रही है। इस वक्त मेरे जो प्रोजेक्ट्स चल रहे हैं – उनमें कुछ फिल्मस, शॉर्ट फिल्म्स,  सीरियल्स और कुछ वेब सीरीज प्रमुख हैं । अभी हाल फिलहाल में मेरा एक सीरियल दूरदर्शन चैनल – डीडी नेशनल पर चल रहा है , सीरियल का नाम है ” फिर सुबह होगी ” इस सीरियल में मैं एक बहुत बड़े देश के जाने माने वकील का रोल निभा रहा हूं , इसके अलावा मेरी एक बहुत ही बढ़िया और बेहतरीन वेब सीरीज आने वाली है जिसका टाइटल है ” द जजमेंट डे ” और इसके अलावा एक फिल्म आने वाली है जयाप्रदा जी और दिवंगत नेता अमर सिंह जी के साथ जिसका टाइटल है “बधाई हो बेटी हुई है ” और एक फिल्म है जिसका टाइटल है “टारगेट इंडिया” जिसमें मैं एक  विलेन की भूमिका निभा रहा हूं जिसको आप बहुत ही जल्द बड़े पर्दे पर देख पाएंगे और इसके अलावा ओर भी कुछ प्रोजेक्ट्स पर बात चल रही है । तो बस मैं अपने सभी चाहने वालों से यह गुजारिश करूंगा कि आगे के प्रोग्राम्स की ज्यादा जानकारी के लिए आप हम से जुड़े रहिए , मेरे सोशल मीडिया अकाउंट्स पर , मेरा इंस्टाग्राम और फेसबुक आईडी है अरमान ताहिल ऑफिशियल और मुझे आप लोग टि्वटर पर भी फॉलो कर सकते हैं एक्टर अरमान ताहिल के नाम से । उम्मीद करता हूं कि आप लोगों का प्यार और आशीर्वाद हमेशा हमेशा बना रहेगा ! धन्यवाद ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.