Language: English Hindi Marathi

कोंढवा में पिट वृक्षारोपण आंदोलन

पुणे :  मुख्य बस स्टॉप के पास बने गड्ढों पर पेड़ लगाकर विरोध प्रदर्शन किया गया |

कोंढवा क्षेत्र में सड़कों की स्थिति इतनी विकट हो गई है कि नागरिकों को यातायात की समस्या का सामना करना पड़ रहा है। इससे यह भी जानकारी सामने आई है कि कोंढवा क्षेत्र में स्कूली छात्र समय पर स्कूल नहीं जा पा रहे हैं। कुछ दिन पहलेनागरिकों द्वारा यह भी कहा गया|

अतुल्य समाजसेवक समूह की ओर से अन्य संगठनों के साथ मिलकर ‘रोड प्लांटिंग मूवमेंट’ चलाया गया। नाव को चट्टानों के बीच रुके पानी में छोड़ कर विरोध किया गया। डेंगू के मच्छरों, कीटाणुओं और कई जगहों पर जमा पानी के स्वास्थ्य संबंधी खतरों को लेकर नागरिकों का आक्रोश देखा गया।  जबकि नागरिक भूखे मर रहे हैं’|  नागरिकों को यकीन नहीं है कि प्रशासन इस पर ध्यान देगा या नहीं।

असलम इसाक बगवान, शहबाज पंजाबी, छबील पटेल, सचिन अल्हत निखिल जाधव, समीर मुल्ला, शाहबाज पंजाबी, पीर पाशा, ऋषिकेश गायकवाड़, गणेश भालेराव, इरफान पप्पू मुलानी, बगवां, रियाज मुल्ला समेत अन्य कार्यकर्ता मौजूद थे|

कोंढवा के स्थानीय नागरिकों ने कहा कि कई वर्षों से सीवेज, नाली के रिसाव, सड़कों पर बने गड्ढों के कारण लगे ट्रैफिक जाम और पूर्व पार्षदों द्वारा पानी की टंकी, पुस्तकालय, प्रसूति गृह, साथ ही हज हाउस जैसे विकास कार्यों के वादे किए गए. और मुस्लिम समुदाय के लिए बाइपास रोड को झूठा साबित किया गया है।इस बार कहा। घटिया कार्य और अन्य कार्यों की उपेक्षा, ये सभी मामले नागरिकों के जेहन में हैं और देखा गया कि यहां के पूर्व पार्षदों से नागरिक नाराज हैं.

Leave a Reply

Your email address will not be published.