Language: English Hindi Marathi

देश में बढ़ती आबादी से अनेकानेक समस्याओं का बोझ

आने वाले कुछ वर्षों में भारत आबादी के मामले में चीन को पीछे छोड़ते हुए अत्यधिक या यूँ कहिए सर्वाधिक आबादी वाला राष्ट्र बन जाएगा।
चीन के मुकाबले कम क्षेत्र फल वाले देश भारत पर संसाधनो का बोझ बढ़ता जा रहा है।आबादी के असंतुलन पर वयापक विचार विमर्श और चिंतन की आवश्यकता है।
देश की विभिन्न राज्यों की सरकारों के साथ समाज को इस ओर वयापक ध्यान देना होगा कि जनसंख्या स्थिरीकरण में सभी वर्ग ,क्षेत्र, समुदाय और संप्रदाय के लोगों का  समान रुप से  भागीदारी हो। इसके अभाव में इससे विकट समस्याओं का सामना करना हो सकता है। दूसरी ओर   स्थरीकरण की ओर लगाए जा रहे प्रयासों पर भी विपरीत असर पड़ेगा।
सरकार  कंट्रोल की दिशा में जितना जल्दी जनसंख्या कानून लाए उतना बेहतर।

Leave a Reply

Your email address will not be published.