Language: English Hindi Marathi

हर भारतीय के DNA में लोकतंत्र, हर हिंदुस्तानी गर्व से कहता भारत ‘मदर ऑफ डेमोक्रेसी’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 26 जून से होने वाले G7 शिखर सम्मेलन में भाग लेने के लिए रविवार को जर्मनी के म्यूनिख पहुंचे हैं. दो दिवसीय शिखर सम्मेलन के दौरान पीएम मोदी G7 और वहां पहुंचे अन्य देशों के नेताओं के साथ बैठक करेंगे.

इस दौरान वे समसामयिक मुद्दों पर विचारों का आदान-प्रदान करंगे. इससे पहले पीएम मोदी म्यूनिख में भारतीय समुदाय के लोगों को संबोधित किया.

पीएम मोदी ने कहा कि आज का दिन एक और वजह से जाना जाता है. जो लोकतंत्र हमारा गौरव है, जो लोकतंत्र हर भारतीय के DNA में है, आज से 47 साल पहले लोकतंत्र को बंधक बनाने, लोकतंत्र को कुचलने का प्रयास किया गया था. आपातकाल के कालखंड भारत के वाइब्रेंट डेमोक्रेटिक इतिहास में एक काले धब्बे की तरह है, लेकिन इस काले धब्बे पर सदियों से चली आ रही लोकतांत्रिक परंपराओं की श्रेष्ठता भी पूरी शक्ति के साथ विजयी हुई, लोकतांत्रिक परंपराएं इन हरकतों पर भारी पड़ी. भारत के लोगों ने लोकतंत्र को कुचलने का जवाब लोकतांत्रिक तरीके से ही दिया है. हम भारतीय कहीं भी रहें, हमें अपने लोकतंत्र पर गर्व हमेशा रहता है, लोकतंत्र हमारा गौरव है. पीएम ने कहा कि भारत लोकतंत्र की जननी है.हर गरीब को 5 लाख रुपए के मुफ्त इलाज की सुविधा

उन्होंने कहा कि Information Technology में, Digital Technology में भारत अपना परचम लहरा रहा है. दुनिया में हो रहे realtime डिजिटल पेमेंट्स में से 40% ट्रांजेक्शन भारत में हो रहे हैं. आज भारत डेटा कंजम्प्शन में नए रिकॉर्ड बना रहा है. भारत उन देशों में है जहां डेटा सबसे सस्ता है. आज का भारत ‘होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा’ वाली मानसिकता से बाहर निकल चुका है. आज भारत ‘करना है’ ‘करना ही है’ और ‘समय पर करना है’ का संकल्प रखता है. भारत अब तत्पर है, तैयार है, अधीर है.

बीते वर्ष भारत ने 111 बिलियन डॉलर के इंजीनियरिंग गुड्स का एक्सपोर्ट किया है. भारत के कॉटन और हैंडलूम उत्पादों के निर्यात में भी 55% की बढ़ोतरी हुई है. आज स्वच्छता भारत में एक जीवनशैली बन रही है. भारत के लोग, भारत के युवा देश को स्वच्छ रखना अपना कर्तव्य समझ रहे हैं. आज भारत के लोगों को भरोसा है कि उनका पैसा ईमानदारी से देश के लिए लग रहा है, भ्रष्टाचार की भेंट नहीं चढ़ रहा.

Leave a Reply

Your email address will not be published.